मेरा बेटा मेरे साथ ऐसा कैसे कर सकता है | Lessonable Hindi Kahani | Emotional And Sad hindi Story

Lessonable Hindi Kahani : 

मेरी आदत थी कि मैं रोज नहाया करती थी और हमारे घर में एक ही बाथरूम था जो कमरे में नहीं बल्कि बाहर घर के आंगन में था जब मैं कमरे से उस बाथरूम में नहाने के लिए जाती थी तो मुझे ऐसा लगता था कि कोई मुझे छुप के देख रहा है और घर में मेरे बेटे के अलावा और कोई भी नहीं था बाहर से कोई आ नहीं सकता था दो-चार बार तो मुझे ऐसा लगा कि जैसे मुझे ही वहम हो रहा है

 

 लेकिन फिर यकीन हो गया कि कोई ना कोई गड़बड़ जरूर थी लेकिन यह क्या घर में तो सिर्फ मेरा जवान बेटा ही था और मैं अपने बेटे पर शक नहीं कर सकती लेकिन फिर मैंने ऐसी दो-चार हरकतें देखी कि मुझे उस पर शक करने पर मजबूर होना पड़ा और जब एक दिन मैंने उसकी गैर मौजूदगी में उसका फोन उठाकर चेक किया तो उसमें एक वीडियो थी

 

 उस वीडियो को देखकर मेरे पैरों तले से जमीन ही निकल गई वीडियो में साफ नजर आ रहा था कि जब मैं नहाने के लिए बाथरूम में जाती थी तो वह मेरी मेरा नाम सुषमा है मैंने अपनी सारी जिंदगी अपने पति के साथ बहुत अच्छे तरीके से गुजारी थी जब मेरी शादी हुई तो मैं बहुत कम उम्र की थी शादी के एक साल में ही मुझे बेटा हो गया मैं अपने बेटे से सिर्फ 16 साल ही बड़ी थी

 

 इसलिए ज्यादा बूढ़ी नहीं लगती थी पर जब मेरा बेटा जवान हो गया तो मेरा पति इस दुनिया से चला गया अब मेरे बेटे पर ही सारे घर का खर्चा आ गया था लेकिन उसने तो इससे पहले कभी पैसे कमाए नहीं थे वह तो अपनी मस्ती में रहता था वह समझता था कि सारी जिंदगी मेरा बाप नौकरी करता रहेगा और सब कुछ ठीक चलता रहेगा और जब ऐसा हुआ तो उसके बाद वह जैसे-तैसे इस घर को चला तो रहा था

 

 हमारा घर इतना बड़ा नहीं था घर में सिर्फ दो ही कमरे थे पर बाहर आंगन बहुत बड़ा था यह घर उस जमाने का बना हुआ था जब घरों में शौचालय नहीं बनाए जाते थे यह तो बाद में मेरे पति ने घर में एक छोटा सा शौचालय बनवाया जो बिल्कुल कोने में था पर यह शुक्र है कि घर में शौचालय बन गया था क्योंकि बाहर जाना बहुत अजीब लगता था वैसे भी अब तो वह जमाना गुजर चुका था

 

 मेरी आदत थी कि मैं रोज नहाया करती थी लेकिन जब से मेरा पति इस दुनिया से गया था और मैं बाथरूम में नहाने के लिए जाती थी मुझे ऐसा लगता था कि जैसे बाथरूम के अंदर कोई झांक रहा है मुझे एक दिन ऐसा लगा और बाकायदा लगा तो मैं डर गई मैंने आसपास देखा तो कोई भी नहीं था मुझे लगा मेरा वहम है लेकिन अगले दिन भी यही हुआ मैं बड़ी परेशान हो गई थी

 

 अब यह ऐसी बात थी कि मैं अपने बेटे को भी नहीं बता सकती थी मेरा बेटा जवान था उसका नाम विक्रम था वह बहुत ही ज्यादा खूबसूरत था लेकिन उसने कभी मेहनत नहीं की थी और आजकल उसे मेहनत करनी पड़ रही थी इसलिए बहुत चिड़चिड़ा लग रहा था मैंने उसे नहीं बताया रात को वह खुद मेरे पास आकर बैठ गया और कहने लगा मम्मी मैं बड़ा परेशान हूं सब कुछ कैसे होगा हम तो दो लोग हैं

 

 लेकिन फिर भी इतने सारे खर्चे हैं मुझे तो पता ही नहीं था कि बाबू जी इतना सब कुछ करते थे मैं तो समझता था कि यह सब बहुत आसान है अभी तो शुक्र है कि घर अपना है मैंने कहा बेटा घर तो अपना है लेकिन घर में भी बहुत सा काम है अगर मरम्मत नहीं करवाई तो घर भी खराब हो जाएगा वह अपना सिर पकड़कर बैठ गया और कहने लगा कि अब क्या करें वैसे मेरे पास एक आईडिया है 

 

आप मेरी शादी करा दो और लड़की वालों से कुछ रुपए मांग लो उन पैसों से हम अपना काम भी कर लेंगे और मैं कोई कारोबार भी कर लूंगा कोई बिजनेस बना लूंगा मैंने जब अपने बेटे के मुंह से यह बात सुनी तो मैंने उसे कहा मैंने तुझे कभी यह सब नहीं सिखाया ऐसे लड़की वालों से पैसे लेना कोई अच्छी बात नहीं है तेरे बाबू जी ने मेरे मां-बाप से एक रुपया नहीं लिया था और तू इस तरह से बात कर रहा है 

 

मैंने उसे डांट दिया और कहा मुझे यह सब कुछ अच्छा नहीं लगता मैंने तेरी तरबियत ऐसी नहीं की कि तू इस तरह की बातें करे किसी की बेटी को अपने घर लाना कोई आम बात नहीं होती वह पूरी जीती जागती इंसान होती है उसका ख्याल भी रखना होता है तेरे बाबूजी बहुत अच्छे इंसान थे मैं कहती हूं कि तुम उनसे भी ज्यादा अच्छा बनकर दिखाओ और तू है कि अभी ही लड़की के दहेज पर नजर टिकाए बैठा है कि वह अपने साथ कुछ पैसे ले आएगी

 

 तो मैं काम कर लूंगा अरे तू खुद क्यों नहीं मेहनत करता मेरे बेटे को मेरी यह बात बहुत बुरी लगी जाहिर है उसे बुरी लग नी थी वह कहने लगा मम्मी खर्चे बहुत ज्यादा है मैं तो आपसे अपने दिल की बात कह रहा था आपने तो मुझे इतना लंबा लेक्चर दे दिया ठीक है मत करवाओ मेरी शादी मैंने कहा तेरी शादी तब करवाऊंगी जब तू कोई पक्की नौकरी करेगा वह इतना कहकर चला गया कि आजकल नौकरी नहीं मिलती 

 

कोई ना कोई जुगाड़ ही करना पड़ता है मैंने कहा यह जुगाड़ क्या होता है तो कहने लगा कि जुगाड़ का मतलब है शकट से पैसे कमाना मैंने कहा ऐसे कभी कुछ नहीं हासिल होता मेहनत करनी पड़ती है अगले दिन मेरे पास एक औरत आ गई जो मेरी बहन बनी हुई थी और मेरे बेटे को उसी ने गोद में पहली दफा उठाया था जब वह पैदा हुआ था क्योंकि वह एक दाई थी आजकल रिश्ते वाली आंटी भी बनी हुई थी 

 

उसने कहा यह विक्रम को कुछ समझाती क्यों नहीं हो यह जिन लोगों के साथ उठता बैठता है वे लोग बिल्कुल भी अच्छे नहीं है पता है इसके दोस्त ने क्या किया तुझे बताऊंगी नाना तो तू हैरान रह जाएगी और मुझे तो लगता है कि तेरे बेटे ने भी यही सब किया है मैंने कहा क्या मतलब उसने कहा जो लोग इसके साथ ज्यादा उठते बैठते हैं उनमें से दो लड़कों ने एक लड़की के साथ वह बोल रही थी कि मैं पहले ही समझ गई 

 

मैंने कहा नहीं तो झूठ बोल रही है उसने कहा हां ऐसा ही हुआ है और मैं क्यों झूठ बोलूंगी सारे मोहल्ले को पता है शुक्र कर कि तेरे बेटे पर अभी तक कोई बात नहीं आई मैंने कहा मेरा बेटा ऐसा नहीं कर सकता उसने कहा यह तो मुझे भी पता है कि शायद ऐसा नहीं कर सकता लेकिन जब ऐसे बुरे बुरे लोगों के साथ रहेगा तो वह कल कुछ करेंगे और इल्जाम इस पर लगाकर बीच में से बच जाएंगे वे सब तो बहुत अमीर हैं 

 

और हम गरीबों का क्या है मेरी दोस्त की बात बिल्कुल ठीक थी इस तरह के मामले में अमीर बच जाते हैं और गरीबों को पुलिस पकड़ के ले जाती है लगता है इसी वजह से मेरा बेटा ऐसी बातें कर रहा था कहता था जुगाड़ करेगा यह जुगाड़ क्या होता है उसने इस तरह की बातें कहां से सीख ली थी मुझे यह सब बिल्कुल पसंद नहीं था सुबह-सुबह मैं नहाने के लिए बाथरूम में गई तो नहाते हुए मुझे ऐसा लगा कि जैसे मेरे आसपास कोई खड़ा है

 

 मैंने अपने मुंह पर साबुन लगा रखा था इसलिए मैंने आंखें नहीं खोली लेकिन आज तो हद ही हो गई मुझे किसी की सांसों की आवाज आई जैसे कोई सांस ले रहा हो मैं घबरा गई और जल्दी-जल्दी कपड़े पहनकर बाहर निकली जैसे ही बाहर निकली सामने मेरा बेटा खड़ा था ऐसा लग रहा था कि कहीं से भाग कर आया है कहने लगा क्या हुआ मम्मी परेशान लग रही हो मैंने कहा मुझसे ज्यादा तो तू परेशान लग रहा है

 

 क्या हुआ है तो उसने कहा नहीं ऐसा कुछ नहीं है आप बताओ क्या हो गया मैं उसे क्या बताती पर मैंने उससे पूछा जब तू बाहर से आया तो तूने यहां से किसी को निकलते हुए देखा है क्या वह कहने लगा नहीं इस बात का क्या मतलब है क्या घर में कोई आदमी आया था क्या इस घर में आदमी आने का मतलब समझती हैं आप अगर ऐसा है तो मैं उसे जिंदा नहीं छोडूंगा 

 

मैंने कहा पहले पूरी बात तो सुन ले मैंने उसे कहा कि मुझे ऐसा लगा कि जैसे कोई आसपास खड़ा है मैंने उसे पूरी बात नहीं बताई क्योंकि मुझे शर्म आ रही थी तो उसने कहा नहीं मैं बाहर से ही आया था कोई भी नहीं था ना में कोई था ना इधर कोई था अगर कोई नहीं था तो फिर मैंने जिसको महसूस किया वह कौन था जो कोई भी था इतनी जल्दी भाग नहीं सकता था 

 

इसके बाद भी एक दफा ऐसा ही हुआ और जैसे ही मैं बाथरूम से निकली तो बाहर मेरा बेटा खड़ा था ऐसा क्यों होता था कि मुझे साफ महसूस होता था कि कोई मुझे देख रहा है और फिर बाहर मेरा बेटा ही खड़ा होता था इस घर में मेरे बेटे के अलावा और था ही कौन पर मेरा बेटा ऐसा कैसे कर सकता था मुझे ऐसा लगता था कि जब मैं नहाती हूं तो कोई मुझे देखता है 

 

लेकिन मेरा बेटा ऐसा क्यों करेगा वह तो मेरा अपना बेटा था मेरे दिमाग में यह बात तब तक नहीं आई जब तक मेरी दोस्त ने एक कहानी नहीं सुना दी वह यही करती थी उसके पास सारे मोहल्ले की खबर होती थी वह एक दिन मेरे पास आई और कहने लगी तुझे पता है वह जो लक्ष्मी है ना उसकी 18 साल की जो बेटी है ना माया उसकी वीडियो वायरल हो गई है मैंने कहा कैसी वीडियो तो कहने लगी की वही वीडियो जैसी आजकल वायरल होती है तो धूम मचाती है

 

 मैंने कहा यह तो बड़ी बुरी बात हुई वीडियो किसने वायरल कर दी तो वह कहने लगी अगर तुझे बताऊंगी ना कि उसकी वीडियो किसने वायरल की है तो तू भी पागल हो जाएगी मैंने कहा बताओ तो उसने मुझे ऐसी बात बताई कि मैं हैरान रह गई सोचने लगी कि यह समाज किस तरफ जा रहा है उसने कहा उसकी वीडियो उसके पति ने वायरल की है और दोनों आपस में मिले हुए हैं 

 

वीडियो बेची है उन्होंने लाखों रुपए लिए हैं कह रहे थे कि कुछ दिन बाद लोग भूल जाएंगे हमसे कोई पूछेगा तो हम कह देंगे कि वीडियो नकली है मैंने कहा इतनी अंदर की बात तुझे कैसे पता चल गई वह कहने लगी यह छोड़ यह अंदर की बात है या बाहर की लेकिन यह देख कि किस तरह की हरकतें हो रही हैं आजकल एक पति अपनी पत्नी की वीडियो को वायरल कर रहा है 

 

सिर्फ पैसे कमाने के लिए तुझे नहीं लगता कि यह समाज पता नहीं किस तरफ जा रहा है हमें तो अपने बच्चों को संभाल के रखना चाहिए उसकी एक जवान बेटी थी जिसकी शादी वह मेरे बेटे से करवाना चाहती थी लेकिन वह साथ यह भी कहती थी कि पहले अपने बेटे का कोई पक्का काम लगवा उसकी बेटी का नाम दीपाली था और मुझे भी वह बहुत अच्छी लगती थी 

 

मैंने एक दफा अपने बेटे से बात की थी तो उसने कहा था कि लड़की तो बुरी नहीं है लेकिन यह जो आप कह रही हो कि उसकी मां ने शर्त रखी है मुझे इस तरह की हरकतें नहीं पसंद वह भी तो हमारी तरह गरीब है किसी अमीर घर से बेटी लेकर आनी चाहिए मैं उसे मना करती थी कि ऐसी बातें ना किया कर गरीबों के घर में गरीबों की बेटी रहती है अमीरों की बेटियां गरीबों के घर में गुजारा नहीं करती मुझे एक बात की समझ नहीं आती थी कि मेरा बेटा इतना लालची कब से हो गया था

 

 उसके दिमाग में ऐसी बातें क्यों आती थी कि लड़की आएगी तो सात पैसे लाएगी मैंने किसी गरीब की बेटी से शादी नहीं करनी मैंने उससे कहा कि तुम कोई अच्छी सी नौकरी तलाश करो तो मैं तुम्हारी शादी दीपाली से करा दूंगी लेकिन ज्यादा वक्त लगा सकते हो क्योंकि वह भी जवान है और तुम भी और लड़कियों की शादी जल्दी करवा देनी चाहिए उसकी मां उसकी शादी जल्दी करवाना चाहती है 

 

अब तो बाबूजी भी इस दुनिया से चले गए अब तुझे ही सब कुछ करना है तो अच्छा है ना कि कोई नौकरी कर ले मेरा बेटा कहने लगा नौकरी नहीं मिली है लेकिन एक काम मिला है जिसमें बहुत सारे पैसे हैं पर काम थोड़ा गलत है मैंने कहा क्या मतलब कौन सा काम है और तू ऐसे क्यों कह रहा है कि थोड़ा गलत है या थोड़ा गलत क्या मतलब होता है जो गलत होता है वह पूरा ही गलत होता है

 

 मेरे बेटे ने कहा मम्मी आपको बताकर मैं पछता रहा हूं ऐसी बात नहीं है बाद में आपको बताऊंगा और वह कहीं चला गया मैं सोचती रही क्या बात कर रहा था मेरा तो दिल बैठ गया क्योंकि आजकल इस तरह की हरकतें बहुत ज्यादा हो रही थी किसी भी जवान लड़के या लड़की को अपनी बातों में फंसाना कोई बड़ी बात नहीं थी हमारा मोहल्ला बहुत बड़ा था इसमें बहुत सी कहानियां होती थी 

 

और मेरी दोस्त को हर कहानी की खबर होती थी इसलिए वह मुझे बातें बताती रहती थी और मैं परेशान रहती थी कि मेरा भी एक जवान बेटा है कहीं कल को कुछ कर ना बैठे जैसे उसने यह बात बताई कि पति ने अपनी पत्नी की वीडियो को वायरल किया वैसे ही मुझे भी ऐसा लगता था कि कोई मेरे साथ ऐसा कैसे कर सकता है अगर मैं नहा रही हूं तो कोई मुझे क्यों बार-बार देखेगा कहीं ऐसा तो नहीं था 

 

कि कोई मेरी वीडियो बना रहा था और मुझे पता ही नहीं था यह सोचकर ही मेरा दिल बैठ गया था मैंने सारी जिंदगी अपने पति के साथ बड़े अच्छे तरीके से गुजारी थी मैं एक शरीफ औरत थी और अब अगर इस उम्र में मेरे साथ कुछ ऐसा हो जाता तो मैं क्या करती और अपने जवान बेटे को अगर यह बताती और उसे पता चल जाता कि यह सब कौन कर रहा है तो वह जवान था जज्बाती था 

 

उसने भी कुछ करना था उसने भी आराम से नहीं बैठना था मैं जब यह सोचती थी तो बहुत डर जाती थी यह शौचालय बिल्कुल कोने में बना हुआ था और पीछे गली की ओर इसकी दीवार एक ही थी और इसमें एक बहुत बड़ा सा रोशनदान भी था जिसके ऊपर कुछ नहीं लगा हुआ था लेकिन वह इतना ऊंचा था कि वहां से कुछ नजर नहीं आता था इसलिए हमने उसके ऊपर ना तो कभी कोई कपड़ा लगाया 

 

और ना ही कोई जाली लेकिन अब मेरा दिल परेशान था तो मैंने नहाने से पहले उस रोशन दन के ऊपर अपना दुपट्टा ल दिया बस ऐसे ही लगाया कि कोई ना लेकिन वहां त पहुंचने के लिए तो किसी को किसी ऊंची सी चीज पर चढ़ने की जरूरत थी गली बहुत ऊंची थी हमारा घर नीचे था इतनी मेहनत कौन करता है वह भी एक बूढ़ी औरत के लिए वैसे मैं इतनी भी बुरी नहीं थी 

 

अभी तक मेरी उम्र 40 साल भी नहीं हुई थी बेटा मेरा जवान था और मैं उसकी शादी करना चाहती थी मैंने कपड़ा लगा दिया और जब मैं नहाकर बाहर निकली तो यह देखकर हैरान रह गई कि कपड़ा अपनी जगह से हटा हुआ था अब तो मुझे अजीब सा ही महसूस होने लगा मुझे रोना आने लगा कि मेरे साथ यह क्या हो रहा है मैंने तो किसी के साथ बुरा नहीं किया क्या आपने बेटे को बता दूं

 

 अब बात ऊपर निकल चुकी थी इसका मतलब कि कोई ना कोई था जो मेरे साथ यह सब कर रहा था पर यह बात भी तो सोचने वाली थी कि किसी बाहर के आदमी को यह कैसे पता कि मैं किस समय नहाने जाती हूं मैं रोजाना एक समय पर नहाने तो नहीं जाती थी कभी-कभी मैं सुबह नहा लेती थी कभी दोपहर को और कभी खाना बनाने के बाद और आजकल गर्मी का मौसम था तो एक दिन में भी नहा लेती थी

 

 क्योंकि मुझे बहुत ज्यादा गर्मी लगती थी और मुझे साफ सुथरा रहने का शौक था होता है कुछ लोगों को शौक तो बार-बार नहाते हैं अपने आप को सवार कर रखते हैं गर्मी के मौसम में दो बार भी नहा लेना कोई ऐसी वैसी बात तो नहीं है गर्मी इतनी होती है तो दो बार नहाने का दिल करता है 

 

इसलिए मुझे यह बात की तो समझ नहीं आ रही थी फिर सोच लिया कि बेटे को बता ही देती हूं मैंने उसे यूं तो नहीं कहा कि मुझे पक्का यकीन है पर मैंने उसे कहा कि मुझे ऐसा लगता है कि जब मैं नहाने जाती हूं तो कोई देखता है और मुझे शक है कि रोशनदान की तरफ से देखता है मुझे लगा था कि मेरा बेटा पागल हो जाएगा कि कौन है वह मैं पता करता हूं नहीं छोडूंगा उसे पर उसने कहा कि कोई बात नहीं है 

 

आपको ऐसे ही लग रहा होगा इस बात को छोड़ें परेशान होने की जरूरत नहीं है कौन है जो ऐसी हरकत कर सकता है आप छोड़ें उसने इस बात को इतना सामान्य लिया मैं हैरान रह गई आपको ऐसे ही लग रहा होगा इस बात को छोड़ दें परेशान होने की जरूरत नहीं है कौन है जो ऐसी हरकत कर सकता है आप छोड़ें इस सबकी उसने जैसा रिएक्शन दिया था मुझे इसकी उम्मीद नहीं थी 

 

वह तो बड़ा गुस्से वाला था और अपनी मां के मामले में अगर कोई इस तरह से बात हो तो बेटे को गुस्सा आ जाता है घर की औरतें तो आपकी इज्जत होती हैं लेकिन वह बिल्कुल भी परेशान नहीं हुआ और मुझे ऐसा लगने लगा कि उसे परेशान होना चाहिए था फिर उसने क्यों मुझसे नहीं कहा मैं उसकी मां थी और यह बड़ा मामला था लेकिन वह तो मजे से बैठा था

 

 मैंने भी दोबारा बात नहीं की और सोचा कि खुद ही पता करती हूं कि आखिर यह सब कौन कर रहा है मेरे लिए यह आसान नहीं था लेकिन मैं कोशिश तो कर सकती थी मैंने अपनी दोस्त को कहा कि मुझे एक कैमरे वाला फोन चाहिए मैं रिकॉर्डिंग करना चाहती हूं उसके पास था फोन पर मेरे पास नहीं था उसने कहा कि एक दिन के लिए अपना फोन तुम्हें दे दूंगी पर पहले मुझे बताओ कि बात क्या है 

 

मैंने कहा कि नहीं अभी नहीं बता सकती बाद में बता दूंगी मैं उस फोन को बाथरूम में रखना चाहती थी और रोशन दान की तरफ कैमरे का मुंह करके देखना चाहती थी कि मुझे बाहर से कौन देखता है मुझे ऐसा लग रहा था कि मैंने बहुत अच्छा आईडिया सोचा था इससे ज्यादा अच्छा आईडिया हो सकता था रिकॉर्डिंग भी हो जाती वीडियो भी बन जाती और पता चल जाता कि हरकत कौन कर रहा है 

 

और मेरे पास सबूत भी आ जाता मैंने अपनी दोस्त से फोन ले लिया और उसे ऐसी जगह पर रखा कि रोशनदान की तरफ कैमरे का मुंह करके रिकॉर्डिंग हो गई मैंने रिकॉर्डिंग भी कर ली और जब रिकॉर्डिंग देखी तो हैरान रह गई क्योंकि कोई भी नहीं था उस रिकॉर्डिंग में मैंने अगले दिन भी ऐसे ही किया लेकिन उसके बाद उसने अपना फोन मांग लिया और कहा कि मुझे फोन चाहिए

 

 मुझे जरूरत रहती है उसे फोन पर काम होते थे वह लोगों की बेटियों के रिश्ते करवाया करती थी इसलिए मैं बार-बार उससे फोन नहीं मांग सकती थी अब हमारे पास इतने पैसे भी नहीं थे कि उस जगह को बंद करवा दें या फिर बाथरूम कहीं और बनवा दें घर के पहले से ही हालत खराब जा रहे थे पता चला कि मेरे पति जब इस दुनिया से गए तो उनके ऊपर बहुत ज्यादा कर्ज था

 

 अब वे लोग सामने आ रहे थे और कह रहे थे कि हमें हमारा पैसा चाहिए और मेरा बेटा सब कुछ कर नहीं पा रहा था क्योंकि उसका कोई पक्का काम नहीं था मुझे भी सब कहते थे कि उसकी शादी करा दो बिल्कुल ठीक क कहते हैं जो पैसे दहेज में मिलेंगे उससे ही अपना कोई बिजनेस कर लेगा लड़की घर में आ जाएगी तुम भी अकेली नहीं रहोगी मेरा बेटा आजकल बहुत परेशान रहता था 

 

एक दिन किसी से फोन पर बात कर रहा था और कह रहा था कि हां आजकल ऐसी वीडियो से लोग बड़े पैसे बना रहे हैं लेकिन ऐसी वीडियो बनाना आसान नहीं है वैसे देखा जाए तो एक वीडियो की ही बात है यार और अगली वीडियो आती है तो लोग बिचली के बारे में भूल जाते हैं बात तो तेरी ठीक है लेकिन मैं ऐसा कैसे कर सकता हूं मुझे यह सब कुछ ठीक नहीं लगता मैं उसकी बात सुनकर हैरान रह गई

 

 अब यह कोई फिल्म या कोई ड्रामा नहीं था कि सीधे-सीधे सारी बात हो रही होती और मुझे समझ नहीं आती कहीं वह वही बात तो नहीं कर रहा था जो मेरे दिमाग में आ रही थी अगर एक पति पैसे कमाने के लिए अपनी पत्नी की वीडियो वायरल कर सकता है तो क्या एक बेटा पैसे कमाने के लिए अपनी मां की वीडियो वायरल नहीं कर सकता और अगर ऐसा नहीं था तो फिर यह बातें क्यों कर रहा था 

 

इसके पास करने को और कोई बात नहीं थी क्योंकि इसे परफेक्ट होना चाहिए था तो कोई काम भी नहीं था यह तो एक गाड़ियों के शोरूम पर जाकर काम किया करता था और इसे रोजाना के थोड़े बहुत पैसे मिल जाते थे लेकिन यह कोई पक्का काम नहीं था ऐसी बातें क्यों कर रहा था 

 

इसके पास बातें करने के लिए यही टॉपिक रह गया था जैसे उसने फोन बंद किया मैं उसके पास गई और मैंने उससे कहा किससे बातें कर रहे थे किसकी वीडियो बनाओगे और वायरल करोगे तुम भी उसे आशीष की तर तरह करोगे क्या जिसने अपनी ही बीवी की वीडियो वायरल कर दी मेरा बेटा हैरान रह गया उसने कहा मम्मी आप कैसी बातें कर रही हो कहां की बात कहां से जोड़ रही हो आपको क्या हो गया 

 

मैं अपने दोस्त से बात कर रहा था ऐसे ही बात हो रही थी मैंने कहा तो फिर मुझे बताओगे वह कौन सी वीडियो की बात कर रहा था कि आजकल ऐसी वीडियो बड़ी वायरल होती है आजकल तो सिर्फ औरतों की वीडियो ही वायरल होती है जिसमें औरतें या तो डांस कर रही होती है या फिर कोई और हरकत कर रही होती है देखो अगर मुझे पता चला कि तुमने भी कोई बुरी हरकत की तो मैं तुम्हें जेल से भी नहीं छुड़ा हंगी

 

 तुम्हारी बेल भी नहीं कराऊंगा आप कैसी बातें कर रही हो मम्मी मैं ऐसी हरकत क्यों करूंगा जिसकी वजह से मुझे जेल जाना पड़े मैंने कहा कि मैंने तुम्हें कहा था कि मुझे ऐसा लगता है कि जब मैं नहाने जाती हूं तो कोई बाहर से खड़ा होकर देखता है उसके बारे में तुमने क्या किया पहले तो वह घबरा गया और बाद में कहने लगा मैंने भी आपको कहा था कि आपको वहम हो रहा है ऐसा कुछ नहीं है 

 

अब मुझे भी गुस्सा आ गया और मैंने उससे कहा और अगर ऐसा होगा तो फिर तू क्या कर लेगा क्या उखाड़ लेगा उस बंदे का तुझे शर्म नहीं आती तो एक दफा कंफर्म तो कर कि ऐसा है या नहीं किसी से चार पैसों का इंतजाम करके इस बाथरूम के रोशनदान को बंद करवा दे यह इतना बड़ा रोशनदान है कि पूरा आदमी यहां से छलांग लगा सकता है जब तेरे बाबा ने शौचालय बनवाया था

 

 ना तो तब जमाना ऐसा नहीं था अगर इसकी छत नहीं भी होती तो भी कोई मसला नहीं था लेकिन आजकल क्यों नहीं पता लोग क्या कर रहे हैं और समाज किस तरफ जा रहा है मुझे तो ऐसा लगा था कि तू गुस्से से लाल पीला हो जाएगा और कुछ ना कुछ जरूर करेगा लेकिन तू तो कुछ भी नहीं कर रहा हाथ पर हाथ रखकर बैठा है मेरे बेटे ने अजीब सी बात कर दी उसने कहा अगर आपको ऐसा लगता है कि बाथरूम में जाते हुए आपको कोई देखता है 

 

तो फिर आप बाथरूम में ना जाया करो ऐसी उलटी बात वही आदमी कर सकता जिसका दिमाग उलझा हुआ हो और उसका दिमाग तेज उलझा हुआ था ऐसे कैसे हो सकता था कि मैं बाथरूम में ना जाऊं गर्मी का मौसम था क्या मैं शौचालय में आ जाती मैं नहाती भी नहीं मुझे तो नहाने का शोक था साफ सुथरा रहने की आदत थी मैं इसी बारे में सोचती रहती थी और अब मुझे पता चल गया था कि मुझे क्या करना है मुझे अपने बेटे पर नजर रखनी थी 

 

क्योंकि इस घर में से कोई को भी नहीं था और ऐसे कोई किसी के घर में नहीं आता मैं तो हैरान थी कि मेरे बेटे को अचानक से क्या हो गया वह तो छोटी-छोटी बातों पर इतना गुस्सा करता था लड़ने मरने को तैयार हो जाता था लेकिन अब बिल्कुल सामान्य हो गया था उधर दीपावली की मां बार-बार कहती थी कि मेरी बेटी तेरे बेटे को पसंद करती है उसे कहो कि कोई अच्छी सी नौकरी कर ले

 

 ताकि इन दोनों की सगाई कर दें लेकिन मैं क्या कहती मेरे बेटे की तो आजकल मुझे खुद समझ नहीं आ रही क्या वह किस तरफ जा रहा है कल तू किसी की बेटी की जिंदगी क्यों बर्बाद करती लेकिन दीपावली भी पागल थी जो कर्म से प्रेम कर बैठी थी और मुझे लगता था कि अगर वाकई ऐसी बात है तो उसने किसी और से शादी नहीं करनी थी चाहे उसे कुछ साल तक भी इंतजार करना पड़ता क्योंकि वह मेरी दोस्त की इकलौती बेटी थी

 

 और वह अपने घर में सबसे ज्यादा लाडली भी थी और मुझे बहुत ज्यादा सुंदर भी लगती थी एक मुसीबत तो नहीं थी मेरे सिर पर अपने बेटे पर नजर तो रख रही थी लेकिन नजर तब रखती ना जब वह ज्यादातर घर पर होता आजकल तो वह घर से बाहर ही रहता था लेकिन जब तक मैं खाना वगैरह नहीं बना रही थी तब तक घर में ही होता था एक दिन मैं नहाने के लिए गई तो उसका फोन उसके कमरे में पड़ा था 

 

पता नहीं मेरे दिमाग में क्या आया मैंने कहा कि उसका फोन चेक करती हूं कि इसके फोन में क्या है आखिर मेरा बेटा है मैं उसका फोन चेक कर सकती हूं लेकिन अगर उसने लॉक लगाया होता तो फिर मैं क्या करती जैसे ही मैंने फोन उठाकर ओन किया तो पता चला कि उसने लॉक नहीं लगाया है नहीं ही कोई पासवर्ड लगाया हुआ है जाहिर है उसने सोचा होगा कि मम्मी से कुछ छुपाने की क्या जरूरत है मम्मी को तो इन चीजों का पता भी नहीं है

 

 लेकिन मैं इतनी भी बेवकूफ नहीं थी मुझे पता था इन सारी चीजों का और मैं कौन सा पुराने जमाने की औरत थी मैंने गैलरी खोली तो उसमें एक वीडियो थी जिसे ऊपर से देखते ही मेरा दिल बैठ गया जब मैंने उस वीडियो को खोला तो मेरे पैरों के नीचे से धरती निकल चुकी थी वह वीडियो बाथरूम की थी और साफ नजर आ रहा था कि उस वीडियो में क्या हो रहा था मेरी आंखों में आंसू आ गए

 

 और मैं अजीब सी हालत में बार-बार देख रही थी कि और भी वीडियो हैं लेकिन एक ही वीडियो थी मैं यही देख रही थी कि अचानक किसी ने मेरे कंधे पर हाथ रखा मैं डर गई और बुरी तरह चौक गई पीछे मुड़कर देखा तो मेरा बेटा खड़ा था और उसने देख लिया था कि उसका फोन मेरे हाथ में है और मैं वीडियो भी देख चुकी हूं अब उसके चेहरे पर डर था और मेरी आंखों में सिर्फ एक सवाल था 

 

जो सवाल मैंने उससे पूछ ही लिया और जवाब जानकर मैं हैरान रह गई मैंने अपने बेटे की तरफ देखा मेरी आंखों में आंसू थे मैंने कहा यह सब कुछ तूने कब किया कैसे किया और क्यों किया बता मुझे वह भी रोने लगा अब उसके भी आंसू आ गए और गुस्से से उसके हाथ कांपने लगे उसने कहा उसी दिन किया जिस दिन आपने मुझे बताया था आपको क्या लगता है कि मैं हाथ पर हाथ रखकर बैठा था

 

 जब आपने कहा कि कोई आपको छुपकर देखता है तो मुझे बहुत ज्यादा गुस्सा आया था लेकिन मेरा गुस्सा करना आपको अच्छा भी तो नहीं लगता आप परेशान हो जाती डर जाती इसलिए मैंने सोच लिया था कि आपको कुछ नहीं बताऊंगा लेकिन जो कोई भी यह सब कुछ कर रहा है उसे पकड़ कर ही रहूंगा इसलिए मैंने पहले ही एक छोटा कैमरा रोशन दान पर लगा दिया था जिसका मुंह दूसरी तरफ था

 

 उसमें आप तो दिखाई नहीं दी लेकिन बाद में दिखाई दे गया वह हमारे मोहल्ले का ही लड़का है और उसी गली में खड़ा होता है जैसे ही उसे पानी गिरने की आवाज आती है वह समझ जाता है कि कोई अंदर आ गया और अंदर झांकने की कोशिश करता है मैंने उसका नाम और घर का पता भी मालूम कर लिया दिल तो करता था कि सीधा उसके घर चला जाऊं और वहीं पर जाकर उसकी हड्डी पसली एक कर दूं

 

 लेकिन अपने दोस्त से बात की तो उसने कहा कि इस तरह करने से कुछ नहीं होगा हो सकता है उसने तुम्हारी मां की कोई वीडियो बनाई हो जो उसके पास हो पहले हमें उससे वीडियो निकलवाने होगी उसी से बात कर रहा था यही वह कह रहा था कि आजकल ऐसी वीडियोस बिकती हैं जब आपने मेरी बातें सुन ली थी मैंने मोहल्ले के कुछ लोगों से बात की है 

 

और हम उसे रंगे हाथों पकड़ेंगे हम ऐसा करेंगे कि उसे यह लगेगा कि कोई बाथरूम में आ गया और नहाने लगा है और जैसे ही वह अंदर की तरफ झांकने लगेगा उसे रंगे हाथों पकड़ लेंगे अगर वैसे उसे कहेंगे कि तुम यह सब कुछ करते हो तो वह कभी भी नहीं मानेगा लेकिन जब उसे रंगे हाथों पकड़ लेंगे तो वह सारे मोहल्ले के सामने पकड़ा जाएगा और उसके बाद कोई भी उसका साथ नहीं देगा 

 

आपसे ज्यादा मुझे गुस्सा है आपसे ज्यादा मैं बेचैन हूं उसे सीधा करने के लिए लेकिन मुझे सब्र से काम लेना होगा क्योंकि हम उसे पकड़ना चाहते हैं और ऐसे लोगों को पकड़ना आसान नहीं है आपको पता है आपने कहा था कि एक लड़की की वीडियो वायरल हुई है वह भी इसी ने की थी लेकिन उसके पति पर लगा दिया था कौन सा पति ऐसा कर सकता है यह तो सोचने की बात है ले

 

किन मोहल्ले वालों को बोलने के लिए जब कोई बात मिल जाती है तो वह उसे बात की कहानी बना देते हैं और फिर आगे पीछे का कुछ सोचते ही नहीं है यह लड़का हमारे पूरे मोहल्ले का सबसे बिगड़ा हुआ लड़का है और इसने और भी बहुत सी लड़कियों को जलील करके रखा हुआ है कभी लड़कियों को छेड़ता है तो कभी कुछ लेकिन अब मेरे हाथों से नहीं बचेगा मैं दिल ही दिल में सोचने लगी कि मैंने अपने बेटे को कितना गलत समझा था 

 

पर मैंने भी बात नहीं बताई वह मेरा अपना बेटा था कोई गैर नहीं तो फिर मेरे साथ ऐसा कैसे कर सकता था पर मैं भी क्या करती आजकल यह समाज किस तरफ जा रहा है यह हम सभी जानते हैं पर मुझे अपने ऊपर बहुत गुस्सा आ रहा था उसके बाद मेरे बेटे ने ऐसा ही किया उसने बाकायदा प्लान बनाया और जैसे ही वह लड़का दूसरी तरफ से रोशन दान के ऊपर ध्यान देने लगा उसने उसे पकड़ लिया वह बड़ा चालाक था 

 

उसने वहां से चढ़ने का जवाब भी दिया था मोहल्ले के लोगों ने भी उसे देख लिया जो काफी इज्जतदार थे और उम्र में बड़े भी थे इन चीजों को समझते भी थे उसके बाद सबने मिलकर उसकी पिटाई लगाई और फिर पुलिस के हवाले कर दिया उसका मोबाइल वगैरह सब कुछ ले लिया गया लेकिन पता चला कि कोई वीडियो नहीं थी लेकिन और बहुत सी लड़कियों की वीडियो बनाई हुई थी

 

 पुलिस ने कहा कि इसके ऊपर तो बहुत सारे केस बनते हैं एफआईआर करो हम इसे छोड़ेंगे नहीं उसके बाद मैंने वह रोशन दान भी बंद करवा दिया बेटे की नौकरी भी लग गई और उसकी शादी दीपाली के साथ ही करवाने के बारे में सोचा उनकी सगाई हो गई और अब शादी होने वाली है अभी भी मैं सोचती हूं कि मेरे दिमाग में कहां से कहां की बातें आई तो मुझे बहुत गुस्सा आता है 

 

यह सब कुछ मेरी दोस्ती की वजह से हुआ था वही लोगों की कहानियां सुनाया करती थी अब उसकी बेटी मेरे घर की बहू बनने वाली है लेकिन उसकी बेटी उससे जैसी नहीं थी वैसे तो मेरी दोस्त बुरी नहीं थी लेकिन मुझे उसकी हरकत अच्छी नहीं लगी मेरे बेटा है वह मेरे साथ ऐसा नहीं कर सकता था और उसने मेरे दिमाग में इतनी गंदगी भर दी कि मैंने अपने बेटे के बारे में बुरा सोचा मैं यही कैसे भूल गई कि मैंने अपने बेटे को खुद बड़ा किया क्या

 

 मैंने उसे ऐसी हरकतें सिखाई थी लेकिन यह भी सच है कि हमारे समाज में इस तरह की बहुत सी हरकतें हो रही हैं आप लोग बताएं कि आपकी जिंदगी में कभी कोई ऐसा बात हुआ है कि आपकी कोई वीडियो किसी के हाथ लग गई हो या आपने किसी के साथ ऐसा होता सुना हो वह लड़का बहुत से लोगों के साथ ऐसा कर रहा था और अभी भी पुलिस ने उसको छोड़ा नहीं है क्योंकि उसे बचाने वाला कोई भी नहीं है 

 

पुलिस वाले कह रहे थे कि दामाद जी ससुराल आए हैं अच्छी खासी खातिरदारी करवा कर जाएंगे और उसे सजा तो मिलनी ही चाहिए किसी की बहू बेटी की इज्जत के साथ खेलना कौन सी अच्छी बात है लेकिन जो मैंने किया वह भी अच्छा नहीं था शुक्र है कि मेरे बेटे को पता नहीं चला वरना वह सारी जिंदगी अपनी ही मां के बारे में क्या सोचता और इस वीडियो को बनाने का मकसद बस यह है कि आप सब संभल कर रहे आज जा जमाना सही नहीं है 

 

Also Read – 

अपने बॉयफ्रेंड के साथ | Mastram Ki Romantic Story | Best Hindi Story | Meri Kahaniyan

पत्नी के साथ। Mastram Hindi Story | Sad And Emotional Hindi Story | Moral Hindi Story

 

Youtube Channel LinkHindi story Moral

 

Leave a Comment